इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

शुक्रवार, 30 सितंबर 2011

पावडर का डब्बा ...रब्बा रे रब्बा ....बुलबुल के बुलबुले द





बच्चों की दुनिया बिल्कुल अलग होती है , उनकी शरारतें , उनकी शैतानियां , उनकी खुराफ़ात , सब अलग और ऐसी कि मन मोह ले और आप बरबस ही मुस्करा उठें । आपको क्या लगता है पावडर का इस्तेमाल आप कैसे कैसे कर सकते हैं , जैसे भी कर सकते हैं लेकिन क्या ऐसे कर सकते हैं । लीजीए शैफ़्फ़ बुलबुल जी आपको बता रही हैं कि , पावडर से आप ये भी कर सकते हैं कैसे , खुद देखिए ......


पावडर को नीचे डाल कर उसके बीच में बैठ कर उसे अच्छी तरह से गोल गोल गुमाएं , और इस तरह से आप गोल गोल सफ़ेद सा गोला बना सकते हैं , देखिए इसकी फ़ुल रेसिपी

बीच में जब आप थक जाएं तो इधर उधर भी देख सकते हैं





ओह ! ये क्या ? पापा ने फ़िर देख लिया , और ये क्या फ़ोटो भी ..धत मैं तो फ़िर पकडी गई

6 टिप्‍पणियां:

  1. जय हो बिटिया रानी ... खूब मज़ा आया ना ... वैसे यह तो कुछ भी नहीं ... आपका यह चाचू तो पूरे कमरे में पावडर फैला कर स्केटिंग करता था ...

    उत्तर देंहटाएं
  2. अल्ले...ई तो गूगली वूगली वूश हो गया!! :)

    उत्तर देंहटाएं
  3. हूँ...... ऐसे अच्छे काम में पकडे जाने पर बड़ा बुरा लगता है .... :)

    उत्तर देंहटाएं
  4. अरे पापा से डरो मत...जितना बदमाशी कर सकती हो रे करो..:P

    उत्तर देंहटाएं
  5. अरे कोई बात नहीं बिटिया रानी पप्पा से बचाने के लिए हम दोस्त हैं न ..खूब उकेरो ..शुभ कामनाएं
    भ्रमर ५
    बाल झरोखा सत्यम की दुनिया

    उत्तर देंहटाएं