इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

रविवार, 12 सितंबर 2010

बुलबुल के बुलबुले ..........और गोलू के गुलगुले







ओह ये दिल्ली की बारिश ....बताओ भला , मुझ जैसी नन्हीं सी जान को भी अपनी छतरी ले कर ही निकलना पडता है ......आखिर कब तक पापा के रेनकोट की जेब से बरसात का मजा लूंगी ...फ़िर common wealth games .....में पता भी तो चलना चाहिए ......कि कित्ते स्मार्ट बच्चे हैं ........





बहुत हो गई बारिश की धमाचौकडी , अब ज़रा अपने लिए एक आध पोस्ट एडवांस में ही लिख कर रख लेती हूं । पापा को तो अपने पोस्टों से ही फ़ुर्सत नहीं मिलती .......




अरे बाप रे ! छोटी भी पढ रही है , मैं भी फ़टाफ़ट अपनी बुक पढ लेता हूं ....इन सबने तो घर को ....पढाकिस्तान .......बना कर रख दिया है .....हां तो कहां था मैं .....


10 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत बढ़िया ...बारिश के मज़े के साथ पढाई ????????? पानी में छपाक छपाक करने का मन होना था न ...

    उत्तर देंहटाएं
  2. अरे वाह...आश्चर्य...बारिश में भी पढ़ाई...और बच्चे तो होते ही स्मार्ट हैं

    उत्तर देंहटाएं
  3. बारिश के मजे के साथ पढाई का मजा... बहुत अच्छा|

    उत्तर देंहटाएं
  4. गोलू और बुलबुल को प्यार और आशीर्वाद

    उत्तर देंहटाएं
  5. झा जी.. ई त पूत के पाँव पालना में वाला कहावत एकदम सच होता देखाई दे रहा है.. अऊर बिटिया त एतना क्यूट है कि का कहें..लपक के उसका गाल चूमने का मन करता है.. देखिए कहीं ठण्डा ओण्डा नहीं लग जाए..

    उत्तर देंहटाएं
  6. बुलबुल..... नीचे क्यों बैठी हो बेटा..उपर बैठो..देखो भैया कैसे अच्छे से बैठ कर सिर दूर रखकर पढाई कर रहा है न .....

    उत्तर देंहटाएं
  7. ब्लाग जगत की दुनिया में आपका स्वागत है। आप बहुत ही अच्छा लिख रहे है। इसी तरह लिखते रहिए और अपने ब्लॉग को आसमान की उचाईयों तक पहुंचाईये मेरी यही शुभकामनाएं है आपके साथ
    ‘‘ आदत यही बनानी है ज्यादा से ज्यादा(ब्लागों) लोगों तक ट्प्पिणीया अपनी पहुचानी है।’’
    हमारे ब्लॉग पर आपका स्वागत है।

    मालीगांव
    साया
    लक्ष्य

    हमारे नये एगरीगेटर में आप अपने ब्लाग् को नीचे के लिंको द्वारा जोड़ सकते है।
    अपने ब्लाग् पर लोगों लगाये यहां से
    अपने ब्लाग् को जोड़े यहां से


    कृपया अपने ब्लॉग से वर्ड वैरिफ़िकेशन को हटा देवे इससे लोगों को टिप्पणी देने में दिक्कत आती है।

    उत्तर देंहटाएं
  8. बहुत खूब - बुलबुल और गोलू को शुभ आशीष

    उत्तर देंहटाएं
  9. इस सुंदर से चिट्ठे के साथ हिंदी ब्‍लॉग जगत में आपका स्‍वागत है .. नियमित लेखन के लिए शुभकामनाएं !!

    उत्तर देंहटाएं