इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

गुरुवार, 16 सितंबर 2010

मिलिए दुनिया के सबसे छोटे.... don... से .......

देखूं तो सही कि आखिर इस बंदूक से ,.....जिससे सब इतना डरते हैं .......आखिर उसका स्वाद कैसा है .....आज तो इस रिवाल्वर को ही चबा कर देखती हूं................



और ये रहा इस don का भाई .........भाई बोले तो गोलू जी ......सांभा की तरह टीले के ऊपर बैठा हुआ ...............

7 टिप्‍पणियां:


  1. बेहतरीन पोस्ट लेखन के बधाई !

    आशा है कि अपने सार्थक लेखन से,आप इसी तरह, ब्लाग जगत को समृद्ध करेंगे।

    आपकी पोस्ट की चर्चा ब्लाग4वार्ता पर है-पधारें

    उत्तर देंहटाएं
  2. ये छोटे सांभा जी ने ही सीखाया होगा---चखकर देखना...

    उत्तर देंहटाएं